ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
कामयाबी के पीछे मत भागो, काबिल बनो-कामयाबी पीछे-पीछे आएगी
September 25, 2019 • Avi Dubey

दीक्षारंभ कार्यक्रम में मंत्री श्री पटवारी ने किया विद्यार्थियों से संवाद  

भोपाल : सोमवार, सितम्बर 23, 2019, 18:57 IST

उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी ने आज बी.एस.एस. कॉलेज में 'उन्मुक्त नवदृष्टि' विद्यार्थी दीक्षारंभ कार्यक्रम में नव-प्रवेशित विद्यार्थियों से सीधा संवाद किया और उनकी जिज्ञासाओं का समाधान किया। श्री पटवारी ने कहा कि चुनौतियों से भरे जीवन में कामयाबी के पीछे मत भागो, काबिल बनो, कामयाबी आपके पीछे आएगी। उन्होंने 17 कॉलेजों से आए स्नातक प्रथम वर्ष तथा स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों के प्रश्नों का समाधान किया।उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि कॉलेज का पहला दिन उत्सव के समान होता है। नया वातावरण, नए दोस्त और नए परिवेश में आते ही युवा वर्तमान व्यवस्था में परिवर्तन चाहता है। उन्होंने कहा कि युवा अपनी ऊर्जा का सकारात्मक उपयोग करें। विपरीत परिस्थिति में युवा निराश न हों, अपनी मेहनत पर भरोसा करें और प्रयास जारी रखें।उत्कृष्टता संस्थान भोपाल के पीयूष शुक्ला के प्रश्न 'प्रदेश के विद्यार्थी उच्च शिक्षा के लिए मध्यप्रदेश के ही संस्थानों को अपनायें, ऐसी व्यवस्था कब होगी' के जवाब में श्री पटवारी ने कहा कि बेहतरी के प्रयास लगातार जारी हैं। राज्य के शिक्षा संस्थानों को संसाधनों और गुणवत्ता की दृष्टि से उत्कृष्ट बनाने के लिए राज्य सरकार ठोस कदम उठा रही है। शिक्षण संस्थानों में विद्यार्थियों का कौशल विकास हो और उन्हें रोजगार मिले, इसकी कार्य-योजना लागू की जा रही है।

उत्कृष्टता संस्थान की कु. आर्शी मिश्रा के प्रश्न 'अकादमिक दस्तावेजों का आटोमेशन कब होगा', के जवाब में श्री पटवारी ने कहा कि पिछले वर्ष प्रवेश प्रक्रिया 100 दिवसीय थी। इस वर्ष यह प्रक्रिया 70 दिवस में पूरी हुई है। आगामी वर्ष की प्रवेश प्रक्रिया 45 दिवस से अधिक नहीं होगी। इस वर्ष प्रवेश पूर्णत: ऑनलाईन किया गया। ओ.टी.पी. आधारित प्रवेश पद्धति से फर्जी प्रवेश पर रोक लगी है। अगले शिक्षा सत्र से डाक्यूमेंटेशन आनलाईन अपलोड किया जायेगा।डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी महाविद्यालय की छात्रा कु. रंजना पटेल ने मंत्री से माँग की कि खिलाड़ियों के लिए निर्धारित टी.ए.डी.ए. में बढ़ोत्तरी की जाए। मंत्री श्री पटवारी ने प्रत्युत्तर में कहा कि महाविद्यालय या विश्वविद्यालय स्तर पर भाग लेने वाले खिलाड़ियों को 500रू. प्रतिदिन के मान से राशि प्रतियोगिता में भाग लेने के समय ही दी जायेगी।प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा श्री हरिरंजन राव ने कहा कि हमारी प्रतिस्पर्धा खुद से है। इसलिए अपने आप को श्रेष्ठ बनाएँ। महाविद्यालयीन जीवन आपको परिपक्व बनाता है। एक जिम्मेदार नागरिक की तरह अपनी बात को दृढ़ता से रखने में आप संकोच नहीं करते हैं। श्री राव ने कहा कि अपने माता-पिता की मेहनत को न भूलें, उन्हें खुश रखें। बेहतर भविष्य आपका इंतजार कर रहा है।मंत्री श्री पटवारी ने विभागीय योजनाओं पर आधारित प्रर्दशनी का शुभारंभ कर अवलोकन किया। साथ ही योजनाओं की पुस्तिका 'प्रबोधिनी' का विमोचन किया। कार्यक्रम में उत्कृष्टता संस्थान के विद्यार्थियों ने रैगिंग- विरोधी नृत्य नाटिका की प्रस्तुति दी।कार्यक्रम में विधायक कालापीपल श्री कुणाल चौधरी, अपर आयुक्त उच्च शिक्षा श्री वेद प्रकाश, बी.एस.एस. कॉलेज के प्राचार्य डॉ. जॉन पी.जे. उपस्थित थे।