ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
प्रमुख कैंसर केयर प्लेटफॉर्म, आनको डाॅट काॅम ने सीरीज ए फंडिंग में  7 मिलियन डॉलर जुटाए
September 27, 2019 • Avi Dubey
  • फंडिंग के सीरीज ए राउंड में एक्सेल पार्टनर्स, चिराटी वेंचर्स (जिसे पहले आईडीजी वेंचर्स इंडिया के नाम से जाना जाता था।) और ड्रीम इनक्यूबेटर का निवेश शामिल है
  • कंपनी का लक्ष्य इस पूंजी का उपयोग कर अपने कामकाज का विस्तार करना और अपने उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ाना है
  • यह प्लेटफॉर्म इस समय हर महीने लगभग 10 हजार कैंसर के मरीजों की सेवा कर रहा है। 14 साल के कम उम्रके बच्चों को मुफ्त सलाह दी जाती है।   

बेंगलुरु, 27 सितंबर 2019 : कैंसर के मरीजों की देखभाल के लिए भारत के एकमात्र इंटरनेट एग्रीगेटर Onco.com  ने सीरीज ए फंडिंग में 7 मिलियन डॉलर की राशि जुटाई है। इस फंड में एक्सेल, चिराटी वेंचर्स (जिसे पहले आईडीजी वेंचर्स इंडिया के नाम से जाना जाता था।) और ड्रीम इनक्यूबेटर का निवेश शामिल हैं।

Onco.com कैंसर के मरीजों की देखभाल में विशेषज्ञ स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने वाला इंटरनेट एग्रीगेटर है। दुनिया भर के कैंसर के शीर्ष डॉक्टरों के नेटवर्क के माध्यम से यह कैंसर के मरीजों को बीमारी की हर स्टेज पर सटीक और व्यक्तिगत वैज्ञानिक सलाह मुहैया कराता है। यह प्लेटफॉर्म कैंसर के मरीजों की उचित देखभाल के लिए उन्हें अच्छे ट्रीटमेंट सेंटर, डॉक्टरों और लैब से जोड़ता है। इलाज के दौरान वह मरीजों की समस्याओं और चिंताओं के समाधान के लिए उन्हें सोल्यूशन मुहैया कराता है। Onco.com का विजन कैंसर के मरीजों और उनके परिजनों की सभी जरूरतों के लिए वन स्टॉप प्लेटफॉर्म बनने का है। 

कंपनी का लक्ष्य अपने ग्राहकों की संख्या का विस्तार करना और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने कामकाज को फैलाना है। इस समय 18 देशों के 30 हजार लोग इस प्लेटफॉर्म का सक्रियता से इस्तेमाल कर रहे हैं। Onco.com इस पूंजी का उपयोग टीम बनाने, कामकाज फैलाने और देश-विदेश में अपने उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ाने में करेगा। 

Onco.com की सीईओ और संस्थापक मिस राशि जैन ने सीरीज-ए फंडिंग पर कहा, “हम एक बेहद गंभीर समस्या का समाधान कर रहे हैं। यह गंभीर समस्या इंफॉर्मेशन गैप है, जो कैंसर के मरीजों और उनके परिजनों को झेलनी पड़ती है। कैंसर के 30 लाख मरीजों का इलाज केवल भारत में किया जा रहा है। मध्यपूर्व, अफ्रीका और एशिया में कैंसर के करीब 70 लाख मरीज हैं। इन देशों में हम अपनी सेवाएं लगातार दे रहे हैं। कैंसर के बहुत से मरीज डॉक्टरों से उचित सलाह लेने के लिए संघर्ष करते रहते हैं। कैंसर के मरीजों को इलाज के लिए सबसे अच्‍छे अस्पताल और अच्छे डॉक्टरों की काफी खोज करनी पड़ती है, जहां उनका बेहतर ढंग से इलाज किया जा सके। इस समय विश्वसनीय जानकारी का कोई ऐसा जरिया नहीं है, जो मरीजों को उनका बेहतर इलाज करने की दिशा में अच्छे डॉक्टरों और बेहतरीन अस्पतालों के संबंध में सलाह दे सकें। इससे निराशा और भ्रम की स्थिति पैदा होती है। Onco.com के साथ हम कैंसर का इकोसिस्टम बनाने पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहे हैं, जिससे मरीज अपने इलाज के दौरान कभी भी सलाह ले सकें।

Onco.com  के सहसंस्थापक और मेडिकल मामलों के प्रमुख डॉ. अमित जोटवानी ने कहा, “हर साल भारत में कैंसर के 15 लाख नए मामले सामने आते हैं। कैंसर के इलाज के क्षेत्र में नए-नए प्रयोग हो रहे हैं। इसलिए मरीजों को इलाज की आधुनिकतम जानकारी से लैस करना और उन्हें व्यक्तिगत सलाह देना काफी महत्वपूर्ण हो जाता है, ताकि वह पूरे आत्मविश्वास से बीमारी का सामना कर सकें। अपने प्लेटफॉर्म के माध्यम से हमारी कोशिश मरीजों को चिकित्सा के आधुनिक विकल्प मुहैया कराने की होती है। अपने प्लेटफॉर्म से हम मरीजों को उनकी स्थिति के अनुसार कैंसर के स्पेशलिस्ट डॉक्टरों और शानदार इलाज की सुविधा उपलब्ध कराकर यह सुनिश्चित करते हैं कि हर मरीज को इस जानलेवा बीमारी से उबरने का पर्याप्त मौका मिले।“

एक्सेल इंडिया के पार्टनर श्री बरथ शंकर सुब्रमण्यिन ने कहा, “Onco.com को एक विचारधारा से चिकित्सा क्षेत्र के जाने-माने टेक्नोलॉजी कैंसर केयर प्लेटफॉर्म में विकसित होना अविश्वसनीय रूप से संतुष्टि प्रदान करने वाला सफर है। यह प्लेटफॉर्म भारत और उभरते बाजार में कैंसर के मरीजों और उनकी देखभाल करने वाले परिजनों को पूर्ण रूप से समर्थन देने की पेशकश करता है। मरीजों की बढ़ती संख्या और कैंसर के डॉक्टरों और मरीजों के संख्या में गंभीर असंतुलन को देखते हुए हम यह मानते हैं कि कैंसर के मरीजों की देखभाल के क्षेत्र में अभी काफी कुछ किया जाना बाकी है। अब यह स्पष्ट है कि कैंसर के मरीजों की बेहतर देखभाल जागरूकता बढ़ाकर, साझेदारियों से, समुदाय को अपने साथ लेकर खास नेटवर्क पर आधारित बिजनेस मॉडल बनाकर की जा सकती है। onco.com ये काम पूरी तरह से कर रहा है।“

चिराटी वेंचर्स के कार्यकारी निदेशक रंजीत मेनन ने कहा, “कैंसर पूरी दुनिया के लिए चुनौती है। भारत में हर साल कैंसर के 10 लाख नए मामले सामने आते हैं। हम Onco.com  को एक ऐसे वर्टिकल प्लेटफॉर्म में बदलते देखकर काफी उत्साहित हैं, जो विभिन्न हितधारकों, जैसे डॉक्टरों, हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स और डायग्नोस्टिक्स को एक साथ एकत्र करता है।“ 

ड्रीम इनक्यूबेटर इंडिया के एमडी श्री मुनेहिको ईटो ने कहा, “मैं ऑन्‍को के मिशन को अपना सहयोग प्रदान कर काफी खुश हूं। ऑन्‍को भारत और दूसरी उभरती अर्थव्सवस्था वाले देशों में कैंसर मरीजौं को बेहतर इलाज मुहैया कराने में मदद कर रहा है। इससे वह मरीजों और उनके परिवार को मजबूत बना रहे हैं। इसके साथ ही कैंसर के मरीजों और उनके परिजनों को उचित जानकारी और बीमारी के संबंध में पूछे गए किसी भी सवाल का जवाब इसी प्लेटफॉर्म से मिलता है। हेल्थ टेक स्टार्टअप के तौर पर ऑन्‍को की टीम इस बड़ी जिम्मेदारी को निभाते समय पूरी गर्मजोशी से इस प्लेटफॉर्म की मेजबानी करती है और सकारात्मक रुख दिखाती है। ड्रीम इनक्यूबेटर (डीआई) को जापान और दक्षिण पूर्व एशिया में स्वास्थ्य ऱक्षा सेवाओं में विशेषज्ञता हासिल है। कंपनी का वहां पर नेटवर्क भी काफी लंबा-चौड़ा है। ड्रीम इनक्यूबेटर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विस्तार करने में ऑन्‍को की पूरी मदद करेगा। भारत में हमने स्वास्थ्य, फाइनेंस, मीडिया, एंटरटेनमेंट और दूसरे क्षेत्रों में 20 से ज्यादा निवेश किए हैं। भारत में स्वास्थ्य रक्षा के क्षेत्र में यह कंपनी का पांचवा निवेश है।” 

मौजूदा समय में कंपनी के नेटवर्क में भारत और अमेरिका के 1500 से ज्यादा कैंसर स्पेशलिस्ट डॉक्टर शामिल हैं। भारत में कंपनी के 500 से ज्यादा ट्रीटमेंट सेंटर हैं (जिसमें स्पेश्यिलिटी अस्पताल और केमो इंफ्यूजन सेंटर शामिल हैं) कंपनी की आधुनिक तकनीक से विभिन्न रोगों की जांच करने की डायग्नोस्टिक लैब पूरे भारत में फैली है। Onco.com दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में कैंसर से जूझ रहे 10 हजार मरीजों के केस को हैंडल करता है। इसके अलावा कैंसर के शिकार 14 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को चिकित्सा संबंधी मुफ्त सलाह दी जाती है। अब तक कंपनी कैंसर से जूझ रहे 100 से ज्यादा बच्चों की सहायता कर चुकी है।   

   Onco.com के विषय में

Onco.com एक ऑनलाइन कैंसर प्लेटफॉर्म है, जो आधुनिक तरीकों से बीमारी का इलाज करने की सलाह देता है। यह 18 देशों में कैंसर के मरीजों को स्वास्थ्य रक्षा की सुविधाएं प्रदान करता है। ऑन्‍को अपने नेटवर्क के 1500 से ज्यादा कैंसर विशेषज्ञ डॉक्टरों, 500 अस्पतालों और लैब के जरिए मरीजों को व्‍यक्तिगत सलाह लेने की इजाजत देते हैं, जिससे वह इलाज के दौरान उपजने वाली स्थिति का आत्मविश्वास से सामना कर सकें। 

Onco.com मरीजों को निम्लनिखित सेवाएं प्रदान करता है

(क) प्राथमिक राय : Onco.com  पर आने वाला मरीज मुफ्त में व्यक्तिगत सलाह हासिल कर सकता है 1. मरीज की जरूरत के अनुसार जांच कराने की सलाह दी जाती है। 2.  मरीज को अपनी बीमारी के इलाज के लिए किस तरह के कैंसर विशेषज्ञ के पास जाना चाहिए, यह सलाह भी दी जाती है। 3. मरीजों के लिए उस स्टैंडर्ड ट्रीटमेंट की सलाह दी जाती है, जो उन्हें मिलना चाहिए। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वैज्ञानिकों के दिशा-निर्देशों के अनुसार मेडिकल इंटेलिजेंस से मरीजों को यह सलाह दी जाती है। ऑन्‍को की टीम ने सभी सामान्य तरह के कैंसर के संबंध में मरीजों को सलाह देने के लिए दिशा-निर्देश बनाए हैं।

(ख) ट्यूमर बोर्ड की राय :  ये राय एक रिपोर्ट के रूप में मरीजों को ऑफर की जाती है। कैंसर के विभिन्न मामलों के विषशेषज्ञ डॉक्टरों के पैनल की ओर से यह सलाह दी जाती है। इस पैनल में 2-3 विशेषज्ञ शामिल रहते हैं। इस रिपोर्ट में मरीजों की स्थिति की पूरी समीक्षा रहती है। इसमें आधुनिक तरीके से इलाज का ऑफर भी मरीजों को दिया जाता है। इसके अलावा मरीजों और उसके परिजनों के मन में उपजे सवालों का जवाब भी दिया जाता है। मरीज यह सलाह भारतीय और अमेरिकी डॉक्टरों से हासिल कर सकते हैं। इन विशेषज्ञों का विभिन्न अंगों में पनपने वाले कैंसर के प्रकार के आधार पर सावधानी से चयन किया जाता है।

(ग) ऑन्‍को कनेक्ट : ऑन्‍को मरीजों को छूट देते हुए प्राथमिकता के आधार पर सीनियर कैंसर स्पेशलिस्ट से मरीजों का अप्वाइंटमेंट बुक करता है। ट्रीटमेंट सेंटर में मरीजों के इलाज की उचित सुविधा उपलब्ध कराता है। गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य रक्षा सुनिश्चित करने के लिए स्टैंडर्ड मानकों के आधार पर विभिन्न रोग की जांच करने वाली लैब में मरीजों को जांच में छूट दी जाती है।

(घ) ऑन्‍को केयर मैनेजमेंट : हर मरीज को आजीवन ऑन्‍को केयर के प्रबंधन का सहयोग मिलता है। मरीजों की मैपिंग एक केयर मैनेजर को की जाती है, जो मरीज के इलाज के दौरान उसकी सहायता करता है। मरीजों की ऑन्‍को केयर टीम के साथ कैंसर विशेषज्ञ डॉक्टरों तक पहुंच हासिल कर सकते हैं। यह एक सब्सक्रिप्शन सर्विस है, जो फिलहाल मुफ्त में प्रदान की जा रही है।