ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
एनएमडीसी में सतर्कता जागरूकता सप्‍ताह संपन्न
November 4, 2019 • Avi Dubey

एनएमडीसी में एक सप्‍ताह तक चली सतर्कता जागरूकता सप्‍ताह की गतिविधियों का 2 नवंबर, 2019 (शनिवार) को समापन हुआ। समापन समारोह एनएमडीसी कारपोरेट कार्यालय में सम्‍पन्‍न हुआ, जिसकी अध्‍यक्षता श्री आलोक कुमार मेहता, निदेशक (वाणिज्‍य) ने की एवं श्री सुमित देब, निदेशक (कार्मिक) की उपस्थिति में एनएमडीसी के वरिष्‍ठ अधिकारी तथा कर्मचारी एवं विद्यालयों/कॉलेजों के प्रतिनिधियों तथा विभिन्‍न प्रतियोगिता के विजेताओं ने इसमें प्रतिभागिता की। जागरूकता का प्रसार करने के लिए पुरस्‍कृत पोस्‍टरों की प्रदर्शनी कार्यक्रम के दौरान लगाई गई। 

श्री आलोक कुमार मेहता, निदेशक (वाणिज्‍य) ने अपने संबोधन में कहा कि पारदर्शिता लाने एवं भ्रष्‍टाचार के उन्‍मूलन के लिए प्रौद्योगिकी के प्रयोग की आवश्‍यकता है। उन्‍होंने सप्‍ताह के दौरान भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध जागरूकता का प्रसार करने के लिए किए गए प्रयासों की सराहना की तथा कहा कि ऐसी निवारक सतर्कता संबंधी गतिविधियां निरंतर आयोजित की जानी चाहिए। उन्‍होंने ऐसी गतिविधियों में युवा पीढी को शामिल करने के महत्‍व पर बल दिया। 

श्री सुमित देब, निदेशक (कार्मिक) ने अपने संबोधन में कहा कि प्रत्‍येक नागरिक को हर समय सतर्क रहना चाहिए तथा ईमानदारी एवं सत्‍यनिष्‍ठा के सर्वोच्‍च मानदंडों के प्रति प्रतिबद्ध रहते हुए भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध कार्रवाई का समर्थन करना चाहिए। उन्‍होंने प्रणाली एवं प्रक्रियाओं को मजबूत बनाने तथा नियमों एवं विनियमों के अनुपालन की आवश्‍यकता पर भी बल दिया। 

एनएमडीसी लिमिटेड के कारपोरेट कार्यालय, हैदराबाद में सतर्कता जागरूकता सप्‍ताह के कार्यक्रमों का प्रारंभ श्री सुमित देब, निदेशक (कार्मिक), एनएमडीसी द्वारा सत्‍यनिष्‍ठा की शपथ दिलाने के साथ किया गया। इस अवसर पर श्री ए.पी.वी.एन. शर्मा, आईएएस (सेवानिवृत्‍त), राज्‍यपाल के सलाहकार, तेलंगाना ने श्री वी.वी.एस. श्रीनिवास, मुख्‍य सतर्कता अधिकारी, एनएमडीसी लिमिटेड एवं अन्‍य गणमान्‍य व्‍यक्तियों की उपस्थिति में ओजस्‍वी भाषण दिया। 

सप्‍ताह के दौरान भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध जागरूकता का प्रसार करने तथा ईमानदारीपूर्ण जीवन को प्रोत्‍साहित करने के लिए अनेक नवोन्‍मेषी विचारों का प्रदर्शन किया गया। अनेक कार्यक्रम, जैसे कि “अंधकार को दोष देने के बजाय रोशनी फैलाना बेहतर है” तथा “भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध एकजुट होना” जैसी थीम पर कैण्‍डल मार्च निकालना, स्‍कूली बच्‍चों द्वारा सीवीसी के लोगों का रूपांकन, वॉकाथन/जागरूकता दौड़, “ईमानदारी-एक जीवन शैली”  पर हस्‍ताक्षर अभियान, प्रेरणात्‍मक वीडियो शो, मानव शृंखला का निर्माण तथा रैली, भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध समूह गान, स्‍कूली बच्‍चों द्वारा नाटक आदि का आयोजन एनएमडीसी की परियोजनाओं एवं कार्यालयों द्वारा छत्‍तीसगढ़, मध्‍यप्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना राज्‍यों में विभिन्‍न स्‍थानों पर किया गया। सप्‍ताह के दौरान एनएमडीसी द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में स्‍कूल/कॉलेज के 10,000 से अधिक विद्यार्थियों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया। 

कर्मचारियों के लिए भाषण तथा प्रश्‍नोत्‍तरी प्रतियोगिता जैसे कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। स्‍कूल/कॉलेज के विद्यार्थियों ने भाषण, वाद-विवाद, प्रश्‍नोत्‍तरी, पोस्‍टर बनाना/पेंटिंग आदि प्रतियोगिताओं में भाग लिया तथा भ्रष्टाचार के विरूद्ध अपनी प्रतिबद्धता को विभिन्‍न माध्‍यमों से व्‍यक्‍त किया।

सप्‍ताह के दौरान सतर्कता जागरूकता का प्रसार करने तथा ऑन लाइन सत्‍यनिष्‍ठा प्रतिज्ञा लेने के लिए सभी कर्मचारियों को एसएमएस संदेश भी भेजे गए। एनएमडीसी की वेबसाइट पर सत्‍यनिष्‍ठा की ऑनलाइन प्रतिज्ञा लेने के लिए एक लिंक भी दिया गया। जनता का ध्‍यान आकर्षित करने के लिए महत्‍वपूर्ण स्‍थलों पर बैनर एवं पोस्‍टर प्रदर्शित किए गए तथा “ईमानदारी-एक जीवन शैली”  विषय पर जागरूकता का प्रसार किया गया। कुछ गतिविधियों का प्रसार एवं प्रचार ट्विटर तथा फेसबुक‍ जैसे सोशल मीडिया माध्‍यमों से भी किया गया। 

चूंकि सतर्कता जागरूकता सप्‍ताह का आयोजन सरदार वल्‍लभ भाई पटेल की जयंती के उपलक्ष्‍य में किया जाता है, विभिन्‍न संप्रभु राज्‍यों को भारत संघ के साथ जोड़ने के उनके योगदान को भी इस अवसर पर याद किया गया।

कार्यक्रम के समापन के अवसर पर निदेशकों द्वारा कर्मचारियों तथा विद्यालयों के विद्यार्थियों के लिए आयोजित विभिन्‍न प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्‍कार वितरित किए।