ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
एसबीआई द्वारा देशव्यापी टाउनहाल मीटिंग का आयोजन 
November 22, 2019 • Avi Dubey


भोपाल, 22/11/2019। भारतीय स्टेट बैंक ने देश भर में अपने ग्राहकों के लिए 500 से अधिक केन्द्रों पर टाउनहाल मीटिंग आयोजित की हैभोपाल सर्कल में ये बैठकें 32 केन्द्रों (मध्यप्रदेश में 23 और छत्तीसगढ़ में 9) पर आयोजित की गई हैं!

भोपाल में टाउनहाल मीटिंग का आयोजन पुराने विधानसभा भवन में स्थित मिन्टो हॉल में  22/11/2019 को किया गया!  जिसकी अध्यक्षता एसबीआई के महाप्रबंधक श्री राजीव सक्सेना ने की! भारतीय स्टेट बैंक द्वारा अपनी सेवाओं और उत्पादों को और भी बेहतर बनाने के उद्देश्य से अपने सम्मानीय ग्राहकों से फीडबैक प्राप्त करने और समझने के लिए पूरे भारत में अपने व्यापक ग्राहक आधार तक पंहुचने के प्रयास के रूप में ही इस टाउनहाल मीटिंग का आयोजन किया गया!

इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री सक्सेना ने कहा कि भारतीय स्टेट बैंक 43 करोड़ से अधिक ग्राहकों की सेवा कर रहा है! ये ग्राहक विभिन्न सेगमेंट्स से आते हैंश्री सक्सेना ने कहा कि भिन्न भिन्न चैनलों के माध्यम से विविध प्रकार की सेवाएं और उत्पाद उपलब्ध कराते हुए एसबीआई टेक्नोलॉजी के उपयोग में अग्रणी हैडिजिटल मोड के माध्यम से और विशेष रूप से योनो के जरिये कई सुविधाएं व्यापक रूप से उपलब्ध करायी गई हैंश्री सक्सेना ने कहा कि डिजिटल माध्यम से, खास तौर पर ओम्नी चैनल योनो के माध्यम से जो कि सारे बैंकिंग उद्योग में अपनी तरह का एक विशिष्ट उत्पाद हैएसबीआई दारा डिजिटल बैंकिंग, फ़ायनेनशियल सुपर स्टोर तथा ऑन लाइन बाजार जैसी सुविधाएं उपलब्ध करायी गई हैंयोनो कैश के जरिये ग्राहक कार्ड के बगैर भी आहरण प्राप्त कर सकता है

श्री सक्सेना ने बताया कि बैंक ने भोपाल की टी.टी नगर मुख्या शाखा में  एवं जबलपुर मुख्य शाखा में कस्टमर केयर सेंटर प्रारंभ किया हैयह केंद्र ग्राहकों को व्यापक मूल्य- वर्धित, गैर-वित्तीय बैंकिंग सेवाएं, डिजिटल उत्पादों, ऋण और अन्य उत्पादों के लिए पूछताछ तथा एसबीआई की अन्य शाखाओं के ग्राहकों के लिए भी सेवाएं प्रदान करेगा

अपने संबोधन में श्री सक्सेना ने ग्राहकों को आश्वस्त किया कि आज के कार्यक्रम मे प्राप्त सुझावो को ध्यान में रखते हुए अपनी सेवाओं में और भी अधिक सुधार करने के लिए बैंक द्वारा प्रयास किये जाएंगे!

एस कोंडल राव

सहायक महाप्रबंधक 

जनसम्पर्क एवं सासेबैं