ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
म. प्र. के एथलीट्स ने तीन स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य पदक दिलाए 
January 11, 2020 • Avi Dubey
खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2020
मध्य प्रदेश के एथेलेटिक्स खिलाड़ियों की स्वर्णिम सफलता
 
 
भोपाल: 11 जनवरी, 2020 

गुवाहाटी में आज से प्रारंभ खेलो इंडिया यूथ गेम्स के पहले दिन मध्यप्रदेश के एथेलेटिक्स खिलाड़ियों ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए तीन स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य पदक मध्य प्रदेश को दिलाए। इनमें से एक स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य पदक मध्य प्रदेश राज्य एथलेटिक्स अकादमी के खिलाड़ियों ने अर्जित किए। इसके अलावा  जूडो खेल में एक कांस्य पदक मध्य प्रदेश को मिला।
  सरजूसराय स्टेडियम गुवाहाटी पर आज खेले गए अंडर-17 बालक वर्ग के जैवलिन थ्रो में मध्यप्रदेश के खिलाड़ियों ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक पर कब्जा जमाया। मध्य प्रदेश अकादमी के खिलाड़ी विवेक ठाकुर ने 66.06 मीटर, रिंकू यादव ने 61.30 मीटर और मो. आरिफ मंसूरी ने 61. 24 मीटर जैवलिन थ्रो कर क्रमशः प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान हासिल कर स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक मध्य प्रदेश को दिलाया।
इसी प्रकार बालक वर्ग अंडर-17 की 3000 मीटर दौड़ में अकादमी के खिलाड़ी अर्जुन वास्कले ने 8ः31.97 मिनट/ सेकंड के समय में दौड़ पूर्ण कर पहला स्थान प्राप्त किया और स्वर्ण पदक मध्यप्रदेश को दिलाया । मध्य प्रदेश के ही खिलाड़ी अभिषेक ठाकुर ने 8ः45.58 मिनट/सेकंड के समय में दौड़ पूरी कर कांस्य पदक अर्जित किया। हरयाणा के खिलाड़ी 8ः39.74 सेकंड समय लेकर दौड़ पूरी की और दूसरा स्थान हासिल किया।
इसी प्रकार बालक वर्ग अंडर-21 की 5 हजार मीटर दौड़ में मध्य प्रदेश अकादमी के प्रतिभावान खिलाड़ी सुनील डावर ने 14ः40 मिनट/सेकंड का समय लेकर रजत पदक तथा 14ः41.52 मिनट/सेकंड का समय लेकर मध्य प्रदेश के खिलाड़ी बहादुर पटेल ने कांस्य पदक प्राप्त किया। गुजरात के अजीत कुमार ने14ः39.99 मि./से. का समय लेकर दौड़ पूरी कर पहला स्थान प्राप्त किया।
मध्य प्रदेश के खिलाड़ी सोहेल अख्तर ने बालक वर्ग अंडर-17 की लम्बी कूद स्पर्धा में 7.16 मीटर कूदकर पहला स्थान प्राप्त किया और मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। दूसरे और तीसरे स्थान पर तमिलनाडु के खिलाड़ी रहे। मध्य प्रदेश के जूडो खिलाड़ी आयुष दत्त ने 66 किलोग्राम भार वर्ग में चैथा कांस्य पदक मध्यप्रदेश को दिलाया।

महेन्द्र व्यास,

जनसम्पर्क अधिकारी