ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
माफिया, अतिक्रमण के नाम दुर्भावनापूर्ण कार्रवाई बंद करे कमलनाथ सरकारः विजेश लुणावत
January 23, 2020 • Avi Dubey
मुख्यमंत्री भी जानते हैं लोगों को डराकर कांग्रेसियों-प्रशासन का गठजोड़ कर रहा अवैध वसूली    भाजपा का 24 जनवरी को प्रदेशव्यापी आंदोलन
 
भोपाल। कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल बना दिया है। माफिया और अतिक्रमण के नाम पर गरीब जनता और भाजपा कार्यकर्ताओं को निशाना बनाया जा रहा है, जबकि कांग्रेसियों के अतिक्रमणों की अनदेखी की जा रही है। भारतीय जनता पार्टी यह मांग करती है कि कार्रवाई के नाम पर इस तरह का भेदभाव बंद किया जाए और इसी के लिये पार्टी 24 जनवरी को प्रदेशव्यापी आंदोलन करने जा रही है, जिसमें हर जिले में पार्टी के कार्यकर्ता कलेक्ट्रेट का घेराव करेंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री विजेश लुणावत ने गुरुवार को मीडिया से चर्चा करते हुए कही।
मुख्यमंत्री भी मानते हैं हो रही गड़बड़ी
श्री लुणावत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी जिस तरह के भेदभाव और अवैध वसूली के आरोप प्रदेश सरकार पर लगाती रही है, उसे स्वयं मुख्यमंत्री कमलनाथ भी मानते हैं और मुख्य सचिव की नोटशीट भाजपा के आरोपों पर मोहर लगाती है। मुख्यमंत्री ने माना है कि इस मुहिम के दौरान माफिया के नाम पर आम जनता को परेशान किया जा रहा है। उन्होंने लिखा है कि बिलिं्डग परमिशन जैसी छोटी-छोटी बातों के लिए हजारों नोटिस दिये जा रहे हैं, पुलिस और प्रशासन के लोग इसमें शामिल हैं, जबकि मैंने स्पष्ट आदेश दिया था कि कार्रवाई माफिया पर हो, जनता पर नहीं।
प्रदेश में अराजकता का माहौल
श्री लुणावत ने कहा कि कमलनाथ सरकार प्रदेश में अराजकता का वातावरण बना रही है। प्रदेश में अवैध शराब माफिया, उत्खनन माफिया और ट्रांसपोर्ट माफिया सक्रिय हैं, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। कांग्रेस नेताओं और अधिकारियों की मिलीभगत से सरकारी जमीनों को हथियाया जा रहा है, अवैध कब्जे किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सबसे ज्यादा अतिक्रमण कांग्रेसियों के ही हैं, लेकिन गरीब जनता और भाजपा कार्यकर्ताओं को चुन-चुनकर निशाना बनाया जा रहा है।
माफियाओं की सूची सार्वजनिक करे सरकार, वर्ना हम करेंगे
श्री लुणावत ने कहा कि हमारी मांग है कि प्रदेश सरकार द्वारा माफियाओं की जो सूची तैयार कराई गई है, सरकार उसे जनता के बीच प्रस्तुत करे। यदि सरकार ऐसा नहीं करती है, तो भारतीय जनता पार्टी अपने स्तर पर तैयार की जा रही अतिक्रमण, अवैध कब्जों की सूचियां मुख्यमंत्री को सौंपेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को यह जानकारी है कि किस मंदिर की जमीन पर किस कांग्रेस नेता का कब्जा है और सरकारी तालाबों की जमीन किसने हथिया रखी है। उन्होंने कहा कि हमारी मांग है कि सरकार इन लोगों पर कार्रवाई करे और गरीब जनता तथा कार्यकर्ताओं को परेशान करना बंद करे।
जिला केंद्रों पर कार्यक्रम का नेतृत्व करेंगे वरिष्ठ नेतागण
प्रदेश में 24 जनवरी को होने वाले विरोध प्रदर्शन के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता अलग-अलग जिलों में आंदोलन का नेतृत्व करेंगे। प्रदेश अध्यक्ष श्री राकेश सिंह इंदौर में नगर-ग्रामीण द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान एवं सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भोपाल में आंदोलन का नेतृत्व करेंगी। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री नंदकुमार सिंह चैहान खण्डवा में तथा श्री नरोत्तम मिश्रा जबलपुर में उपस्थित रहेंगे। शिवपुरी में श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, छतरपुर में श्री भूपेन्द्र सिंह, उमरिया में श्री रामलाल रौतेल, सतना में श्री राजेन्द्र शुक्ला, दमोह में श्री जयंत मलैया, टीकमगढ़ में श्री लालसिंह आर्य, कटनी में श्री गणेश सिंह, ग्वालियर नगर-ग्रामीण में श्री विवेक शेजवलकर, होशंगाबाद में डॉ. सीताशरण शर्मा, हरदा में श्री हेमंत खंडेलवाल, खरगोन में श्री जितू जिराती, झाबुआ में श्री सुदर्शन गुप्ता, धार में सुश्री ऊषा ठाकुर, मुरैना में श्री जयसिंह कुशवाह, भिण्ड में श्री रूस्तम सिंह, दतिया में श्रीमती संध्या राय, श्योपुर में श्री अभय चैधरी, गुना में श्री वेदप्रकाश शर्मा, अशोकनगर में श्री नरेन्द्र बिरथरे, सागर में श्री गौरीशंकर बिसेन, निवाड़ी में श्री उमेश शुक्ला, पन्ना में श्री बृजेन्द्रप्रताप सिंह, रीवा में श्री जनार्दन मिश्र, सीधी में श्रीमती रीति पाठक, सिंगरौली में श्री शशांक श्रीवास्तव, शहडोल में श्री गिरीश द्विवेदी, अनूपपुर में श्री ओमप्रकाश धुर्वे, डिण्डौरी में श्री संपत्तिया उईके, मंडला में श्री नरेश दिवाकर, बालाघाट में श्री ढालसिंह बिसेन, सिवनी में श्री कन्हाईराम रघुवंशी, नरसिंहपुर में श्री राव उदयप्रताप सिंह, छिन्दवाड़ा में श्री कमल पटेल, भोपाल नगर-ग्रामीण में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, रायसेन में डॉ. गौरीशंकर शेजवार, विदिशा में श्री धु्रवनारायण सिंह, सीहोर में श्री रमाकांत भार्गव, बुरहानपुर में श्री सुभाष कोठारी, बड़वानी में श्री गजेन्द्र पटेल, अलीराजपुर में श्रीमती रंजना बघेल, उज्जैन नगर-ग्रामीण में श्री रमेश मेंदोला, शाजापुर में श्री महेन्द्र सोलंकी, आगर में श्री विजेन्द्र सिंह सिसोदिया, देवास में श्री कृष्णमुरारी मोघे, रतलाम में श्री जी.एस. डामोर, मंदसौर में श्री सुधीर गुप्ता एवं श्री जगदीश देवड़ा नीमच में कार्यकर्ताओं के साथ कलेक्ट्रेट का घेराव करेंगे।