ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
नवनियुक्त प्राथमिक शिक्षकों के प्रवेशन कार्यक्रम का हुआ सफलतापूर्वक आयोजन
December 31, 2019 • Avi Dubey

        केंद्रीय विद्यालय के नवनियुक्त प्राथमिक शिक्षकों के 10 दिवसीय प्रवेशन कार्यक्रम का समापन दिनांक 31/12/2019 को हुआ । ज्ञातव्य हो कि यह प्रवेशन कार्यक्रम केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 3, भोपाल में आयोजित किया गया था, जिनमें 33 नवनियुक्त प्राथमिक शिक्षकों ने भाग लिया जो कि भोपाल संभाग  के विभिन्न केंद्रीय विद्यालयों में कार्यरत हैं। इस प्रवेशन कार्यक्रम का शुभारंभ माननीय श्री सोमित श्रीवास्तव, उपायुक्त, केंद्रीय विद्यालय संगठन, भोपाल संभाग ने दीप प्रज्वलित करके किया।

    इस कार्यक्रम की रूपरेखा पाठ्यचर्या निर्देशिका श्रीमती डॉ ऋतु पल्लवी, प्राचार्य, केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 3, भोपाल, पाठ्यचर्या सह निदेशक श्री देवेंद्र सिंह परमार, प्रधान अध्यापक केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 1, भोपाल  ने मिलकर तैयार किया। पाठ्यचर्या संसाधक के रूप में श्री संजय कुमार सोनटके, प्राथमिक शिक्षक, केंद्रीय विद्यालय बैरागढ़ भोपाल और श्रीमती उर्मिला त्रिपाठी, प्राथमिक शिक्षिका, केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 1, भोपाल ने कार्य किया।

    ज्ञातव्य हो कि इस कार्यक्रम का आयोजन मुख्यतः नवनियुक्त प्राथमिक शिक्षकों को केंद्रीय विद्यालय के कार्यशैली, अध्यापन पद्धती एवं आचार संहिता से अवगत कराना था।  इस कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों एवं विभागों के विशेषज्ञों एवं अनुभवी शिक्षकों को आमंत्रित किया गया, जिन्होंने अपने ज्ञान एवं अनुभवों को इन प्राथमिक शिक्षकों के साथ साझा किया।

कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण रहे दिल्ली से आए मोटिवेशनल स्पीकर श्री तरुण शर्मा जी जिन्होंने ना केवल इन शिक्षकों को बल्कि बोर्ड कक्षा के बच्चों के लिए विशेष सत्र लिया । बाल अधिकार संरक्षण आयोग से आए श्री बी.एस. चौहान ने भी अपने ज्ञानवर्धक भाषण से सभी को प्रमुख सूचना प्रदान की।

    नवनियुक्त प्रतिभागियों के अनुसार यह प्रशिक्षण कार्यक्रम उनके लिए अत्यंत लाभकारी रहा और यहां सीखी गई बातें वह अपने-अपने विद्यालयों में जाकर अवश्य अमल में लाने का प्रयास करेंगे। कार्यक्रम के समापन समारोह के अवसर पर माननीय श्री सोमित श्रीवास्तव, उपायुक्त, केंद्रीय विद्यालय संगठन, भोपाल संभाग ने अपने प्रेरक उद्बोधन के पश्चात समस्त प्रतिभागियों को शुभकामनाएँ दी। 

 

श्रीमती डॉ ऋतु पल्लवी

प्राचार्य