ALL Current events Technology Social RGPV Updates COVID-19
रिश्ते-नाते विषय पर सुनाए संस्मरण और हुई परिचर्चा
December 18, 2019 • Avi Dubey

मंगलवार 17/12/2019 को रविशंकर नगर स्थित रूफ टाॅप ओपन स्टेज पर महिला काव्य मंच की मासिक गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता महिला काव्य मंच मध्यप्रदेश की उपाध्यक्ष डाॅ. प्रीति प्रवीण खरे ने की तथा मुख्य अतिथि शेफालिका श्रीवास्तव एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में दुर्गारानी श्रीवास्तव उपस्थित रहीं।
मासिक गोष्ठी में साहित्यकारों ने रिश्ते-नाते विषय आधारित अपने संस्मरण सुनाए साथ ही इस विषय पर एक परिचर्चा का आयोजन भी किया गया। मधुलिका श्रीवास्तव बताया कि कैसे ट्रेन में करवाचैथ मनाने के लिए पूरी कोच के अजनबी यात्रियों ने सहयोग किया, तो सुधा दुबे ने अपनी शादी के प्रारंभिक दिनों का किस्सा सुनाया। जहां एक ओर पहली बार साहित्यिक मंच पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए रूपाली सक्सेना ने अपने बच्चों के सहजतापूर्ण व्यवहार का संस्मरण साझा किया तो वहीं दूसरी ओर डाॅ. अर्चना निगम ने अपने घर में भाई की दक्षिण भारतीय परिवार में शादी करने और भाई की सास यानि 'अम्मा' की यादें ताज़ा कर सबको भावुक कर दिया। विद्यारानी श्रीवास्तव ने बचपन याद करते हुए बहन-भाई खट्ठे-मीठे रिश्तों में बाबूजी के निर्णय की बात कही, तो वहीं पहली बार शामिल हुईं महिला काव्य मंच की सबसे छोटी वक्ता वाणी ने अपने नानाजी के साथ हुआ मजेदार संस्मरण सुनाया। इसके साथ ही साधना श्रीवास्तव, नीता, दुर्गारानी, नीति एवं शेफालिका ने भी अपने-अपने संस्मरण सुनाए। रिश्ते-नाते विषय पर हुई परिचर्चा में साहित्यकारों ने अपने-अपने विचार रखे। लीना बाजपेयी का कहना था कि हमें यदि रिश्ते-नाते निभाने हैं तो उन्हें समय देना पड़ेगा। शशि बंसल ने कहा कि हमें अपने स्वयं के परिवार के अलावा भी खानदान के दूसरे रिश्तों से भी गहरा संबंध रखना चाहिए। डाॅ. प्रीति प्रवीण खरे ने परिचर्चा के विषय पर अपने विचार रखते हुए कहा कि आज रिश्तों को संभालना है तो हमें सोशल मीडिया की आभासी दुनिया से बाहर आना होगा। कीर्ति श्रीवास्तव का विचार था कि अपने बच्चे हों या अन्य रिश्ते, यदि इनको बेहतर बनाना है तो परस्पर संवाद रखना होगा, संवादहीनता भी रिश्तों को नीरस बनाती है। परिचर्चा में शालिनी खरे, नीलू शुक्ला, नीता श्रीवास्तव, प्रतिभा एवं वाणी श्रीवास्तव ने भी अपने विचार प्रकट किए। कार्यक्रम का कुशल संचालन शशि बंसल ने किया एवं आभार नीलू शुक्ला ने दिया।
कार्यक्रम के अंत में महिला काव्य मंच (रजि.) मध्यप्रदेश की उपाध्यक्ष डाॅ. प्रीति प्रवीण खरे ने भोपाल इकाई की नवीन कार्यकारिणी की घोषणा की, जिसमें शशि बंसल को अध्यक्ष, नीति श्रीवास्तव को उपाध्यक्ष, लीना बाजपेयी को सचिव, शालिनी खरे को सहसचिव एवं प्रतिभा श्रीवास्तव को प्रचार-प्रसार सचिव मनोनीत किया गया। उपस्थित साहित्यकारों ने कार्यकारिणी के नवनियुक्त पदाधिकारियों को बधाई दी।
       उपाध्यक्ष
   डाॅ. प्रीति प्रवीण खरे
   महिला काव्य मंच (रजि.) मध्यप्रदेश
        सम्पर्क: 9425014719